Home JANKRITI ISSUE 2022 JANKRITI ISSUE 81
Sale!

JANKRITI ISSUE 81

50.00

आप सभी पाठकों के समक्ष जनकृति का जनवरी 2022 अंक प्रस्तुत है। इस अंक में आप साहित्य, कला, राजनीति, इतिहास, संस्कृति, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी इत्यादि क्षेत्रों के महत्वपूर्ण विषयों पर आधारित शोध आलेख, लेख पढ़ सकते हैं। इसके अतिरिक्त अंक में आप साहित्यिक रचनाएँ भी पढ़ सकते हैं।

Quick Checkout
Categories: , Tag:

Description

आप सभी पाठकों के समक्ष जनकृति का जनवरी 2022 अंक प्रस्तुत है।  विषय सूची- 

संपादकीय         4

कला-विमर्श  

सिनेमा में एल.जी.बी.टी. समुदाय का अंकन / डॉ. सविता शर्मा    8

हिंदी सिनेमा में भारतीय किसान/ लक्ष्मी एवं सीमा 16

भारतीय रंगमंच और पारसी थिएटर : पुनर्मूल्यांकन/ नौशाद अली 27

असमीया नाटककार ज्योतिप्रसाद अगरवाला कृत ‘शोणित कुँवरी’ नाटक का भावपरक विश्लेषण/ शेषांक चौधरी 34

दलित एवं आदिवासी-विमर्श   

दलित आत्मकथाओं में मुखरित दलित विद्यार्थी जीवन / डॉ. रितु अहलावत 39

मणिपुर की थंगल नागा जनजाति / वीरेन्द्र परमार 46

स्त्री-विमर्श

भारतीय संस्कृति एवं साहित्य में नारी / डॉ. रूबी देवी 53

किन्नर-विमर्श

पोस्ट बॉक्स नं. 203 नाला सोपारा में अभिव्यक्त लैंगिक विमर्श / मनीषा पाल 61

बाल-विमर्श   

‘‘कानून के विरूद्ध संघर्षरत बच्चों के जीवन पर संप्रेक्षण गृह के प्रभाव का मूल्यांकनात्मक अध्ययन”

( नागपूर के विशेष संदर्भ में )/ प्रेमकुमार नाईक 66

बाल साहित्य में स्त्री/ संध्या 74

भाषिक-विमर्श

हिन्दी में कोश-रचना की परम्परा/ राजकुमार 84

 शिक्षा-विमर्श

स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद शिक्षा संस्थानों का अंतरजाल / अभिषेक रंजन 90

जनपद गाजियाबाद के परिषदीय उच्च प्राथमिक विद्यालयों में ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों की शैक्षिक उपलब्धि पर पारिवारिक वातावरण के प्रभाव का अध्ययन/ नरेंद्र पाल, डॉ० योगेश्वर प्रसाद शर्मा 93

राजनीतिक-विमर्श

गाँधी का राष्ट्रवाद /  सुमीत कुमार गुप्ता 102

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी

भारत में डिजिटल ‘डाटा’ के संरक्षण एवं नियमन की आवश्यकता का अध्ययन / डॉ. रेणु सिंह 108

अल्पसंख्यक-विमर्श

अनवर सुहैल के कहानी संग्रह ‘गहरी जड़ें’ में मुस्लिम जीवन की अभिव्यक्ति / मीनाक्षी गिरि 118

साहित्यिक-विमर्श

लोककथा के संदर्भ में विजयदान देथा की कहानियों का मूल्‍यांकन / तनुजा 124

हिंदी कविता में शिल्प-विधान / आशुतोष तिवारी 130

सच्ची और नैसर्गिक स्वच्छन्दता के प्रवर्तक कवि/ डॉ. गिरीश कुमार के के 135

‘कुटज’ का गद्य – वैशिष्टय/ डॉ. अजीत कुमार पुरी 141

‘अन्य’ के सृजन का प्रतिरोध करती असगर की कहानियां/ विष्णु वी. प्रभु 145

अशोक वाजपेयी की काव्य भाषा और शिल्प/ संतोष कुमार 150

मनोवैज्ञानिक यथार्थ बोध की गाथा-‘आपका बंटी’/ डॉ.शिप्रा श्रीवास्तव ’सागर’ 165

किसान आधारित हिंदी कहानियों में अभिव्यक्त पशु संवेदना के स्वर/ सीमा 170

मलखान सिंह की कविता का सौन्दर्यबोध/ डॉ. रविता कुमारी 175

टूटी हुई बिखरी हुई : कवि रूपी प्रेमी की पीड़ा की अभिव्यक्ति/ प्रतीक कुमार मौर्य 189

‘टोकरी में दिगन्त थेरी गाथा’: एक नजर/ विनोद कुमार शुक्ला 196

तुलनात्मक अध्ययन: परंपरा, प्रकार तथा उपयोगिता/ रवि तिवारी 199

अतीत की विरासत, ग्राम्यजीवन बोध और बद्रीनारायण की कविता/ डॉ. कर्मानंद आर्य 204

मेरा बचपन मेरे कंधों पर:  “बचपन के अदम्य साहस की आत्मकथा”/ विरेश ‘ श्रीराजे ‘ 211

लुप्त तथ्य एवं दुर्योधन का अकाट्य तर्क : ‘महाभारत की एक साँझ’/ डॉ. सोमाभाई जी. पटेल 223

‘जंगल तंत्रम्’ उपन्यास का विश्लेषणात्मक अध्ययन/ अंजना 228

‘कहानीकार संजय खाती की कहानियों में सामाजिक परिदृश्य’/ अजय सिंह रावत 234

संस्कृति मूल्यों का सृजन करती है तो सत्ता उसका ध्वंस : कटरा बी आरजू उपन्यास के संदर्भ में/ आशीष 240

हिंदी ग़ज़ल का नया लिबास/ डॉ.जियाउर रहमान जाफरी 244

फणीश्वरनाथ रेणु: आंचलिकता से परे, स्वातंत्र्योत्तर देशकाल का कथाकार/ सत्य प्रकाश सिंह 250

प्रवासी साहित्य

हिंदी के प्रवासी साहित्य में मॉरिशस का साहित्य / स्वर्णलता ठन्ना 266

लोक साहित्य एवं संस्कृति

हरियाणवी लोक साहित्य में अंबेडकरवाद के प्रवर्तक महाशय छज्जूलाल सिलाणा / दीपक मेवाती 273

 साक्षात्कार

‘उजाले उनकी यादों के’: मृदुला सिन्हा से साधना वर्मा की बात-चीत

[गोआ सदन 17-4-2017]/ डॉ. साधना वर्मा  281

अनुवाद

‘सिंदूर’ (तसलीमा नसरीन)/ डॉ. चैताली सिन्हा  286

 साहित्यिक रचनाएँ

कविता

सुशांत सुप्रिय 293

लघुकथा

अपराध भाव / समीर उपाध्याय 297

व्यंग्य

थाली का लड्डू / डॉ० दलजीत कौर 298

पुस्तक समीक्षा

हिंदी दलित कथा साहित्य की सैद्धान्तिकी एवं व्यवहार/ मनीष साहू 301

चित, चिंतन और चरित्र (लघुकथा-संग्रह)/ समीक्षक : डॉ. काकोली गोराई 305

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “JANKRITI ISSUE 81”

You may also like…

0
    0
    Your Cart
    Your cart is emptyReturn to Shop