जनकृति । JANKRITI

अंतरानुशासनिक पूर्व- समीक्षित द्विभाषी अंतरराष्ट्रीय मासिक पत्रिका । Interdisciplinary Peer-Reviewed Bilingual International Monthly Magazine

About us । परिचय

अंतरानुशासनिक पूर्व- समीक्षित द्विभाषी अंतरराष्ट्रीय मासिक पत्रिका (ISSN: 2454-2725)

जनकृति अंतरानुशासनिक पूर्व-समीक्षित (PEER REVIEWED) द्विभाषी अंतरराष्ट्रीय मासिक पत्रिका है। यह एक अव्यावसायिक है जिसका प्रकाशन जनकृति संस्था द्वारा किया जाता है। पत्रिका का प्रकाशन मार्च 2015 से प्राम्भ हुआ और यह पूर्ण रूप से विमर्श केन्द्रित पत्रिका है, जहां विभिन्न क्षेत्रों के विविध विषयों को एक साथ पढ़ सकते हैं। पत्रिका में एक ओर जहां साहित्य की विविध विधाओं में रचनाएँ प्रकाशित की जाती है वहीं साहित्य, कला,  इतिहास, राजनीतिक विज्ञान से जुड़े शोध आलेख, आलेख, साक्षात्कार इत्यादि  प्रकाशित किए जाते हैं। 

अकादमिक क्षेत्र में शोध की गुणवत्ता को ध्यान में रखते हुए अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनृरूप पत्रिका में शोध आलेख प्रकाशित किए जाते हैं। शोध आलेखों का चयन विभिन्न क्षेत्रों के विषय विशेषज्ञों द्वारा किया जाता है, जो विषय की नवीनता, मौलिकता, तथ्य इत्यादि के आधार पर चयन करते हैं।

जनकृति के माध्यम से हम सृजनात्मक, वैचारिक वातावरण के निर्माण हेतु प्रतिबद्ध है। 

Membership । सदस्यता

Buy Magazine । पत्रिका खरीदें

Sale!

JANKRITI ISSUE 88

60.00
Sale!

JANKRITI ISSUE 87

60.00
Sale!

JANKRITI ISSUE 86

60.00
Sale!

JANKRITI ISSUE 85

60.00
Sale!

JANKRITI ISSUE 71

50.00
Sale!

JANKRITI ISSUE 72-73

50.00
Sale!

JANKRITI ISSUE 74

50.00
Sale!

JANKRITI ISSUE 75

50.00
Sale!

JANKRITI ISSUE 76-77

50.00

जनकृति विशेषांक । Jankriti Special Issue

Sale!
Sale!
Sale!
Sale!

JANKRITI 2021 ISSUE

200.00

ब्लॉग गतिविधि

More