Membership। सदस्यता

प्रत्येक माह पत्रिका का अंक मेल पर प्राप्त करने हेतु पत्रिका की सदस्यता लें

आप सभी पाठकों के समक्ष जनकृति का नया अंक (फरवरी-मार्च 2022, सयुंक्त अंक) प्रस्तुत है। यह अंक आप वेबसाइट से खरीद सकते हैं अथवा 8805408656 नंबर पर गूगल पे, फोन पे के माध्यम से शुल्क भेजकर अंक अपने इमले पर भी मँगवा सकते हैं। यदि आप प्रत्येक माह जनकृति का नया अंक अपने ईमेल पर प्राप्त करना चाहते हैं तो आज ही जनकृति की सदस्यता प्राप्त करें। सदस्यता शुल्क- वार्षिक- 800 रुपए, पंचवर्षीय- 4000, आजीवन सदस्यता- 5000 रूपए। 

Current Issue । वर्तमान अंक

अंक 82-83, फरवरी-मार्च 2022 (सयुंक्त अंक)

जनकृति अंतरानुशासनिक पूर्व-समीक्षित (PEER REVIEWED) द्विभाषी अंतरराष्ट्रीय मासिक पत्रिका है। यह एक अव्यावसायिक है जिसका प्रकाशन जनकृति संस्था द्वारा किया जाता है। पत्रिका का प्रकाशन मार्च 2015 से प्राम्भ हुआ और यह पूर्ण रूप से विमर्श केन्द्रित पत्रिका है, जहां विभिन्न क्षेत्रों के विविध विषयों को एक साथ पढ़ सकते हैं। पत्रिका में एक ओर जहां साहित्य की विविध विधाओं में रचनाएँ प्रकाशित की जाती है वहीं साहित्य, कला,  इतिहास, राजनीतिक विज्ञान से जुड़े शोध आलेख, आलेख, साक्षात्कार इत्यादि  प्रकाशित किए जाते हैं। 

अकादमिक क्षेत्र में शोध की गुणवत्ता को ध्यान में रखते हुए अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनृरूप पत्रिका में शोध आलेख प्रकाशित किए जाते हैं। शोध आलेखों का चयन विभिन्न क्षेत्रों के विषय विशेषज्ञों द्वारा किया जाता है, जो विषय की नवीनता, मौलिकता, तथ्य इत्यादि के आधार पर चयन करते हैं।

जनकृति के माध्यम से हम सृजनात्मक, वैचारिक वातावरण के निर्माण हेतु प्रतिबद्ध है। 

नवीन अंक विषय सूची: फरवरी-मार्च 2022 (सयुंक्त अंक)

Sale!
Sale!

JANKRITI ISSUE 81

50.00
Sale!

JANKRITI ISSUE 71

50.00
Sale!

JANKRITI ISSUE 72-73

50.00
Sale!

JANKRITI ISSUE 74

50.00
Sale!

JANKRITI ISSUE 75

50.00
Sale!

JANKRITI ISSUE 76-77

50.00
Sale!
Sale!
Sale!
Sale!

JANKRITI 2021 ISSUE

200.00
0
    0
    Your Cart
    Your cart is emptyReturn to Shop